Har Galati Ek Sabak hai

0
17 -Feb-2017 Anju Goyal Moral Education Poems 0 Comments  94 Views
Anju Goyal

हर गलती एक सबक है ।
गलती करना कोई गलती नहीं
पर बार बार दोहराना गलती है ।
हर गलती एक सबक है
इन्सान गलतियों का पुतला है ।
पल पल गलती करता रहता है
जो पाठ पाठ नहीं पढ़ा पाते ।
गलती वो पाठ पढ़ा देती है ।
हर गलती से सीख लेना जरूरी है
सफल होने के लिए सीखना जरूरी है
गलती को सुधार कर आगे
बढ़ना ही समझदारी है ।
वरना हर गलती इन्सान
पर बहुत भारी है ।



Please Login to rate it.




How was the poem? Please give your comment.

Post Comment

Poemocean Poetry Contest

Good in poetry writing!!! Enter to win. Entry is absolutely free.