Mehngai Ke Saamne, Janta Laachar

0
Mehngai Ke Saamne, Janta Laachar

उत्तर भारत को चुना, कुहरे ने आवास।
सरदी का होने लगा, लोगों को आभास।।
--
ऊनी कपड़ों का सजा, फिर से अ

Meri Gullak Toot Gai.

0
Meri Gullak Toot Gai.

मेरी गुल्लक टूट गई

मैंने अपने गुल्लक को, सालों से संभाल रखा था,
अनेकों अनेक जेबखर्चों को, इसमे

Do Joon Ki Roti

0
Do Joon Ki Roti

महीना जेठ का का आया, हुई हैं रात अब छोटी
बड़ी मुश्किल से मिलती है, मगर दो जून की रोटी

श्रमिक को हो

Nahi Ghate Kyon Daam?

0
Nahi Ghate Kyon Daam?

-१-
पूरी दुनिया में हुआ, सस्ता तेल तमाम।
लेकिन उस अनुपात में, नहीं घटे क्यों दाम।।
नहीं घटे क्यों

Janta Hai Maayus

0
20 -Jan-2016 Yogesh Pandey Aashiyana‎ Inflation Poems 0 Comments  580 Views
Janta Hai Maayus

जनता है मायूस आज सहमी, घबराई,
खुशियों का घन घटा, गमों की बदरी छाई.!!
मिलेगा कैसे अमन,चैन अब यहाँ सभी

Is writing is your passion?

Then join us to spread your creativity to world. Registration is absolutely free.