ग़ज़ल--ये तुम क्यों भूल गए

0
26 -May-2017 Piyush Raj Love Poem 0 Comments  45 Views
ग़ज़ल--ये तुम क्यों भूल गए

ग़ज़ल-ये तुम क्यों भूल गए...........

मैंने तुम से प्यार किया था.....ये तुम क्यों भूल गए
तुमको सब कुछ मान लिय

प्यार करता रहा हूं तुमको।

0
25 -May-2017 HARIOM AGRAWAL Love Poem 0 Comments  30 Views
प्यार करता रहा हूं तुमको।

प्यार करता रहा हूं तुमको, प्यार ही करता रहूं।
इश्क की इन वादियों में नाम तुम्हारा जपता रहा हूं ।

मैं जो रूठ जाऊं तो मना लेना मुझ...

0
23 -May-2017 pravin tiwari Love Poem 0 Comments  80 Views
मैं जो रूठ जाऊं तो मना लेना मुझ...

मैं जो रूठ जाऊं तो मना लेना मुझे
तन्हा हूं मैं ना तन्हा छोड़ देना मुझे

तुम्हें पाकर ही तो अब मु

मिल जाएं हम..

0
21 -May-2017 pankaj taparia Love Poem 0 Comments  85 Views
मिल जाएं हम..

आओ मिल जाएं हम, सुगंध और सुमन की तरह,
एक हो जाएं हम दोनों, फूल और चमन की तरह,

चेहरा देखूं तेरा तो, म

दिल क्या करे/ dil kya kare

0
20 -May-2017 shalu L. Love Poem 0 Comments  99 Views
दिल क्या करे/ dil kya kare

दिल क्या करे
रुके थे हम वहीं जहां आप हमें छोड़कर गए थे,
देखा भी नहीं मुड़कर हम राह देखते रह गए थे.
क्

Poemocean Poetry Contest

Good in poetry writing!!! Enter to win. Entry is absolutely free.
You can view contest entries at Hindi Poetry Contest: March 2017