ग़ज़ल (दुनियाँ में जिधर देखो हज़ारों रास्ते दीखते )

0
16 -May-2017 Madan Saxena Politics Poem 0 Comments  119 Views
ग़ज़ल (दुनियाँ में जिधर देखो हज़ारों रास्ते दीखते )




मोदी सरकार से सवाल

1
13 -May-2017 युवा हिन्दी कवि Politics Poem 0 Comments  170 Views
मोदी सरकार से सवाल

हमारे देश में आए दिन आतंकी हमले होते रहते हैं । अभी हाल ही में 24 अप्रैल को छत्तीसगढ़ के सुकमा में

जाग रहा देखो एक योगी |

0
09 -Apr-2017 DINESH CHANDRA SHARMA Politics Poem 0 Comments  325 Views
जाग रहा देखो एक योगी |

जाग रहा देखो एक योगी
---------------------
जाग रहा देखो एक योगी , सारी दुनिया सोती है |
बीती आधी रात है लेक

योगी जी एक आये हें |

0
06 -Apr-2017 DINESH CHANDRA SHARMA Politics Poem 0 Comments  137 Views
योगी जी एक आये हें |

योगी जी एक आये हें
००००००००००००००००
जर्जर हालत है यूं पी की ,चुस्त बनाने आये हें |
गोरख बाब

राम राज फिर आ गयो

0
03 -Apr-2017 Mahesh Nagar Politics Poem 0 Comments  143 Views
राम राज फिर आ गयो

घर - घर भगवा छा गयो रे,
राम राज फिर आ गयो रे|
मोदी जी योगी को लाये,
योगी ने अलख जगायो रे|
घर-घर भगवा......

Poemocean Poetry Contest

Good in poetry writing!!! Enter to win. Entry is absolutely free.
You can view contest entries at Hindi Poetry Contest: March 2017