Aao Hum Ped Lagaayein

0
Aao Hum Ped Lagaayein

आओ हम पेड़ लगायें, आओ हम पेड़ लगायें ।
धरती पर हरियाली लाकर खुशहाली लौटायें ॥
आओ हम पेड़ लगायें

Bhavishya

0
Bhavishya

एक जगह थे थोड़े से पेड़
जो रखते थे हरदम छाया
जब सूरज अपनी गर्मी बढाता
हर कोई उनकी छाया में आता

पे

Lakadi Wali

0
Lakadi Wali

लकड़ी-वाली,लकड़ी-वाली
क्यों तुम जंगल जाती हो?
सूखी लकड़ी तुम बीनो
या हरे पेड़ भी लाती हो?

भोलू-राजा,

Plant the trees and save the Earth..

2
Plant the trees and save the Earth..

“आज हमें धरती को, फिर से स्वर्ग बनाना है।
हरे वस्त्र इसकेआभूषन, फिर से इसे पहनाना है।
प्रदूषण को

Vriksh Hi To Jeevan Hai

0
08 -Oct-2015 khushi chhoker Save Trees Poems 0 Comments  2,044 Views
Vriksh Hi To Jeevan Hai

वृक्ष ही तो जीवन है फिर क्यूँ काटता है मानव इसको ।
पता तो सबको हैं, पर समझता कोई नहीं ।
मानव तो मत

Is writing is your passion?

Then join us to spread your creativity to world. Registration is absolutely free.