Latest poems in Hindi & English on Republic day, India Gantantra Diwas, 26 January

फुर्सत कभी मिले तो

1
04 -Jul-2019 Mukesh Kamti Bewafai Poems 0 Comments  323 Views
फुर्सत कभी मिले तो

फुर्सत कभी मिले तो मेरा एक दर्द उठा लेना खेल कर उससे मन बहला लेना रोना मत कभी यदि हम ना रहे बस मेरे गम के साथ खेल-खेल हमेशा मुस्कुराते रहना ।।

पुराने एहसास

1
02 -Apr-2019 vijay sethiya Bewafai Poems 1 Comments  401 Views
पुराने एहसास

दबे है मेरे जेहन में, कुछ पुराने एहसास कुछ उसके भी जेहन में। इश्क़ का नाम सुनते ही छपी होती है अक्सर उसकी आंखों में मेरी ही तस्वीर। काश इश्क़ में भी कोई कबाड़ी वाला होता, जो पुराने एहसासों की कीमत लोगों को समझा सकता।

चोट उसी से खाये बैठे हम

0
07 -Nov-2018 Rakesh Dubey Bewafai Poems 0 Comments  638 Views
चोट उसी से खाये बैठे हम

चोट उसी से खाये बैठे हम दिल से जिसे लगाये बैठे हम ---------------------------------------- जो देखेगा हँसकर चल देगा अपने अश्क छुपाये बैठे हम ---------------------------------------- आह भरें तो रुसवा होगे तुम दिल का दर्द दबाये बैठे हम ---------------------------------------- तेरी उलझन सुलझा-

तेरी बेवफ़ाई की खुशबू तुम्हारे इशारे से अब आ ही गई है

0
23 -Oct-2018 Vikas Kumar Giri Bewafai Poems 1 Comments  556 Views
तेरी बेवफ़ाई की खुशबू तुम्हारे इशारे से अब आ ही गई है

दिल की बस यही तमन्ना थी,अब लब पर आ ही गई है, होठ कुछ कहे या न कहे इशारे सब कुछ समझा ही गई है, तुमने कहा था की सिर्फ ये दोस्त है मेरातेरी-बेवफ़ाई-की- समंदर अब तो साहिल से टकरा ही गई है मैं वादे पे कायम हूँ, तुझे वादों पे काय

Wafa ki umeed

0
03 -Oct-2018 mithlesh chouhan Bewafai Poems 0 Comments  397 Views
Wafa ki umeed

bewafai kari dusro se, khud ke liye wafa ki umeed rakhi, pyaar na bana kisi ka ,per khud ke liye pyaar ki ummid rakhi Dhoka diya to dokha hi payaa mene ,is dard ki dawa hi is dil ka dard bani , bewafai kerke kisi se ,ab wafa ko taras raha hu, Jo din raat baate kiya karte the ab, unke alfaaj ko taras raha hu, Bhula na paya unko ab tak , bewafai ki to h per unko bewafai ki vajah samja na paaya hu, Thukra k pyaar kisi ka pyaar ko taras raha hu me, ker k bewafai kisi se , wafa ko tarash raha hu me, Dil tod ker kisi ka , Kisi se dil jodne ko taras r

Poemocean Poetry Contest

Good in poetry writing!!! Enter to win. Entry is absolutely free.
You can view contest entries at Hindi Poetry Contest: March 2017