Latest poems in Hindi & English on Republic day, India Gantantra Diwas, 26 January

प्यारा बचपन

0
28 -Apr-2019 Naveen Kumar Childhood Poems 0 Comments  43 Views
प्यारा बचपन

समय की बहती धारा में, गुम हुए हमारे अलहरपन। चलो ढूँढ़कर लाते हैं, फिर से अपना प्यारा बचपन ।। गुड्डे-गुड़ियों की शादी में, हम रहते थे बेफिक्र मगन। कागज की कस्ती हाथ लिए, ख्वाबों से भरे बेबाक नयन ।। चलो ढूँढ़कर लाते

ढलता बचपन

2
06 -Feb-2019 Divya Raj kumar Childhood Poems 0 Comments  323 Views
ढलता बचपन

आ फंसे किस दलदल में अनजान मोड़ो पर जिन्दगीं के कशमकश में गुम हो गए काश...! जिन्दगीं उस पन्ने को एक दफा और दोहरा जाए बचपन के उस सुनहरे सफर का फिर दर्पण दिखला जाए काश....! समेंट लूँ फिर से वो नमकीन यादों के पुल उसमे घुली मि

NOTHING MUCH FOR MINORS BY SAHAJ SABHARWAL

0
21 -Dec-2018 Sahaj Sabharwal Childhood Poems 0 Comments  79 Views
NOTHING MUCH FOR MINORS BY SAHAJ SABHARWAL

"NOTHING MUCH FOR MINORS" Minors are those less than eighteen, As they don't have knowledge in keen. They don't have a driving licence, As don't have driving sense. Minors are given just pen and page, Their life is not more than a cage. Holiday is not given even on sundays, As their age is negligible for fundays. Parents are worried not to get blame, From minors they just want their fame. Circumstances are same for every minor, Parents are just their life designer. sahajsabharwal12345@gmail.com -Sahaj Sabharwal. -Chowk Chabutra, -Jammu. -11th C

Bachpan ( बचपन )

0
12 -Oct-2018 Archie Childhood Poems 0 Comments  335 Views
Bachpan ( बचपन )

*_Bachpan_* उल्टे पैरों में चप्पल पहनना हर किसी को याद होगा माँ के हाथों वाला मीठा करेला हर किसी को याद होगा डाँट के आभास से कोने में छिपना हर किसी को याद होगा ही। वक्त का मतलब तो बस घड़ी का मोटा काँटा होता था याद तो होगा ह

चिंता

0
05 -Aug-2018 nil Childhood Poems 0 Comments  275 Views
चिंता

बोल गया कागा मुंडेर पर शायद घर आयेगा ललना रोटी रोजी के चक्कर में देश छोड़ परदेश गया घर आँगन खलिहान खेत को 'रामभरोसे' सौंप गया जिससे पूछो वो ही कहता सूने खेत गाँव घर अंगना ! जब से गया न चिठिया भेजी जाने कैसे रहता है? कब

Poemocean Poetry Contest

Good in poetry writing!!! Enter to win. Entry is absolutely free.
You can view contest entries at Hindi Poetry Contest: March 2017