Latest poems in Hindi & English on Republic day, India Gantantra Diwas, 26 January

कांग्रेस राफेल और कांग्रेस

0
13 -Feb-2019 RAM PRAKASH BAIRAD KHERAJGARH JATI BHANDU Politics Poem 5 Comments  5,875 Views
RAM PRAKASH BAIRAD KHERAJGARH JATI BHANDU

आज देश आंचल में अजब चर्चाओं का दौर जारी हैं,
नाम को बदनाम करनें की गजब कौशिशें जारी हैं।
तुमने हर काम इतनी आसानी से क्यों कर दिया महाराज,
चली तुमनें एक चाल जो हमसे कर रही मतदाता नाराज।
तुम अजब-गजब के इंसान हो राजनीति से अनजान हो,
जेब भरने की कला से अंजान हो घोटालों से बैजान हो।
आजादी से पग-पग घोटाले की थी जो अजब कोशिशें हमारी,
इन कोशिशों को जमीं पे उतार हमनें बनायी एक भ्रष्ट फुलवारी।
जीप से लेकर कोयला घोटाला कतई ना था एक आसान काज,
घोटाल तंत्र मुश्किल से बनाया उसे ढहाते ना आई तुम्हें लाज ।
अब तुम्हंे बोफोर्स तोफों के घोटालें की कहानी का क्या बताएं,
इस घोटालें की तकनीक को हमने भी विदेश से जो थें मंगाएं।
राफेल हमारे लिए विमान कम और एक घोटाले की नई आस थी,
यह भी छीन ली जो हमारी गबन की विरासत के लिए खास थी।
काॅमनवैल्थ गैम्स और 2 जी स्पैक्ट्रम ने भी भर दी झोली हमारी,
हाॅकी विश्वकप को और 4 जी स्पैक्ट्रम से भी खाली रही तुम्हारी।
तुमने राफेल बिना कमीशन और घोटाले से कैसे खरीद लिया,
सौदे से पहले एक बार हमारा इतिहास तो जरा होता पढ लिया।
उसकों जाने दो तुमने इसकों देश में बनाने का कैसे सोच लिया,
तुमने तो फिर कभी रक्षा घोटाला ना होने का संविधान लिख दिया।
हम फिर सत्ता में आएं तो राफेल तो क्या सुई ना लाएंगें,
लाने का प्लान बनाने में हजारों गबन तुम्हें फिर दिखाएंगे।
हम हर रोज चिल्लाएंगे हमारे भ्रष्ट इतिहास को मिटने ना देंगे,
जनता मूर्ख बनी तो फिर सत्ता भोग भारत माता को लूट खांएंगे।

कांग्रेस राफेल और कांग्रेस


Dedicated to
Narendra Modi

Dedication Summary
Narendra Modi, prime minister of India, never take helps of corrupt politic and he beat badly corruptive policies of different political parties of India that believe in only corruption.

 Please Login to rate it.



You may also likes


How was the poem? Please give your comment.

Post Comment

5 More responses

Poemocean Poetry Contest

Good in poetry writing!!! Enter to win. Entry is absolutely free.
You can view contest entries at Hindi Poetry Contest: March 2017