Latest poems in Hindi & English on Republic day, India Gantantra Diwas, 26 January

सबसे प्यारी बिटिया।

0
03 -Dec-2021 ताज मोहम्मद Daughter Poems 0 Comments  123 Views
सबसे प्यारी बिटिया।

अपने पापा की मैं हूँ सबसे प्यारी बिटिया... उनकी ख़ुशियों की मैं हूँ जादू की इक पुड़िया... अपने पापा की मैं हूँ सबसे प्यारी बिटिया... प्राण बसते हैं उनके तो बस मेरे ही अंदर। मेरी खुशियाँ का वह है इक अनंत समन्दर।। मैं छोटी

Betiyan (बेटियाँ)

0
23 -Nov-2021 Nainsi Jain Daughter Poems 0 Comments  369 Views
Betiyan (बेटियाँ)

पापा की आंखों का मान होती हैं, मां की जिंदगी की, पहचान होती हैं, भाई बहनों के लिए, खुशिंयों की दुकान होती हैं, तभी तो कहते हैं, बेटियाँ तो घर की शान होती हैं। कभी ये मुस्काती हुई, कली बन जाती हैं, कभी ये शर्माती हुई, नदी

जीना सिखाती बेटियां

0
26 -Sep-2021 Khushi Daughter Poems 0 Comments  1,061 Views
जीना सिखाती बेटियां

हमें जीना सिखाती बेटियां सूने घर में खुशियां भर जाती बेटियां जन्म लेते ही पापा की परी बन जाती मां के दामन में हंसती खिलखिलाती दादा दादी को प्यारी प्यारी बातें सुनाती भाइयों से लड़ती खूब डांट पड़वाती हमें जीना स

तू कब बड़ी हो गई पता ही नहीं चला

0
17 -May-2021 Meenu Lodha Daughter Poems 0 Comments  386 Views
तू कब बड़ी हो गई पता ही नहीं चला

अंगुली पकड़ कर चलाते चलाते जब तूने अंगुली छोड़ी और चलना सीखा ख़ुश तो मैं बहुत थी , पर तु बड़ी हो गई ये पता ही नहीं चला स्कूल ले जाते जाते ,तूने अपने आप कोलेज जाना शुरू किया , ख़ुश तो मैं बहुत थी पर तु बड़ी हो गई पता ही न

#%बस इतना हमें कहना है%#

0
20 -Feb-2021 Bijendra Aehsas Daughter Poems 0 Comments  612 Views
#%बस इतना हमें कहना है%#

#बस इतना हमें कहना हैं# ----------------------------------------------- फूलों सी कोमल हो तुम कलियों से हो तुम नदान, रहो जमीं पर उडो़ ना और देखो ना असमान। आवारे मदंमे है भंवरे,सब भंवरों से बच कर रहना है। पापा की इन परियों से, बस इतना हमेंं कहना है।

Poemocean Poetry Contest

Good in poetry writing!!! Enter to win. Entry is absolutely free.
You can view contest entries at Hindi Poetry Contest: March 2017