Latest poems in Hindi & English on Republic day, India Gantantra Diwas, 26 January

Books Are a Source of Information

0
23 -Feb-2019 Education Poem 0 Comments  51 Views
Books Are a Source of Information

Books are a source of information They make us travel every nation Countless things they tell us Which everyone reads without a fuss They take us to far away places To beautiful open spaces in the hills To the people working hard in the mills To the unknown world of celestial bodies. Deep down to the aquatic bodies They tell us about the past And the future which is changing fast.

आज गुरूजी से पूछेंगे

0
30 -Jan-2019 DINESH CHANDRA SHARMA Education Poem 0 Comments  243 Views
आज गुरूजी से पूछेंगे

आज गुरूजी से पूछेंगे कितने सारे प्रश्न उभरते , रहते हैं मन में दिनभर | आज गुरूजी से पूछेंगे , सारे प्रश्नों के उत्तर || अनगिन रहते जीव ताल में , डूब नहीं क्यों जाते हैं ? पानी तो पी लेते होंगे , भोजन कैसे पाते हैं ? धरती प

प्रश्न पूछकर उत्तर लें

0
27 -Jan-2019 DINESH CHANDRA SHARMA Education Poem 0 Comments  201 Views
प्रश्न पूछकर उत्तर लें

प्रश्न पूछकर उत्तर लें जिज्ञासाएं शांत प्रश्न से , ज्ञान हुनर सुदृढ़ कर लें | छोड़ें डर संकोच झिझक सब , प्रश्न पूछकर उत्तर लें | खोजें हुई हैं दुनियाभर में , प्रश्न बने उनका आधार | खोज खोज कर उत्तर ही तो , कितने सारे हुए

कृण्वन्तो विश्वं आर्यम - स्वामी दयानंद सरस्वती

0
20 -Jan-2019 DINESH CHANDRA SHARMA Education Poem 0 Comments  271 Views
कृण्वन्तो विश्वं आर्यम - स्वामी दयानंद सरस्वती

अटके भटके हुए विश्व को , मार्ग दिखाया ऋषिवर ने | कृण्वन्तो विश्वं आर्यम का , पाठ पढ़ाया ऋषिवर ने || टंकारा गुजरात में जन्मे , था नाम मूलशंकर पाया | पौराणिक परिवेश ज़रा भी , था रास नही उनको आया | सत्य ज्ञान अन्वेषण करने , कद

जिंदगी जीना सिखलिया

0
11 -Jan-2019 Narendra Education Poem 0 Comments  197 Views
जिंदगी जीना सिखलिया

जिंदगी को इस तरह जीना सिखलिया, कभी हमने आगे बढ़ना सिखलिया, तो कभी औरों को आगे बढ़ना सीखलादिया, कभी गुस्ताखियों पर माफी मंगली, तो कभी माफ करना सिखलिया, दोस्तो जिंदगी जीने में मजा तब आया, जब लोगो के चेहरे छोड़ अपना चेहर

Poemocean Poetry Contest

Good in poetry writing!!! Enter to win. Entry is absolutely free.
You can view contest entries at Hindi Poetry Contest: March 2017