Latest poems in Hindi & English on Republic day, India Gantantra Diwas, 26 January

MAIN AK PITA KO KRIB SE DEKHI HU

0
18 -Jun-2020 PURNIMA KUMARI Fathers Day Poems 0 Comments  177 Views
MAIN AK PITA KO KRIB SE DEKHI HU

MAIN AK PITA KO KRIB SE DEKHI HU Apne Priwar Ke Liye Ratbar Kam Karte Hua Dekhi Hu Apne Priwar Ko Presaan Dekh Kar Ak Pita Ko Ratbar Zagte Hua V Dekhi Hu Unke Presaniyo Mein Hausla Brate Hua V Dekhi Hu Main Ak Pita Ko Krib Se Dekhi Hu. Sab Ki Khawahiso Ko Pura Karte Hua Dekhi Hu Sab Ki Zid Puri Karte Hua Dekhi Hu Roothne Par Har Bar Mnate Hua V Dekhi Hu Main Ak Pita Ko Krib Se Dekhi Hu. Thand Bhari Rato Mein Thithurte Hua Dekhi Hu Garmi Mein Presan Hota Hua V Dekhi Hu Barsat Mein Bheegte Hua V Dekhi Hu Main Ak Pita Ko Krib Se Dekhi Hu. Tanhayi

पिता हमारी पहचान

0
18 -May-2020 Mamta Rani Fathers Day Poems 0 Comments  284 Views
पिता हमारी पहचान

रहता है सदा हाँथ सर पे धूप से बचाता छाता जैसे कठोर भी है कोमल भी वो नारियल के ऐसे रहता जैसे कमी नहीं होने देते कुछ भी चाहे जैसे हो करते सबकुछ आभास नहीं होने देते है अंदर ही  सहते सबकुछ पिता ही है हमारी पहचान जो बनात

रब का रूप है पिता.....

0
05 -Apr-2020 DassY Fathers Day Poems 0 Comments  431 Views
रब का रूप है पिता.....

रब का रूप है पिता तू मुझमें है तेरा ही स्वरूप मोड़ देता है तू रुख हो चाहे कोई मुश्किल या धूप जगत है रब का मगर पिता तूने ही है मुझे बनाया चैन से सोने दिया मुझे मगर खुद रात जाग कर बिताया दर्द तुझे भी होता है मगर आंसू को

पापा जी का स्कूटर

1
24 -Nov-2019 सुमित.शीतल Fathers Day Poems 0 Comments  650 Views
पापा जी का स्कूटर

पापा जी का स्कूटर है बढ़िया, पुराना पर आज भी काम का है भैया। जब पापा जी स्कूटर थे नया लाए, साथ में बर्फी व रसगुल्ले भी थे लाए। स्कूटर पर जब हमे स्कूल छोड़कर आते, घर आते वक्त स्कूल से भी जब साथ लाते। स्कूटर जब पापा जी त

पापा! आप के होने से

0
29 -Jun-2019 Satyam Devu Fathers Day Poems 0 Comments  849 Views
पापा! आप के होने से

::पापा! आप के होने से:: पापा! आप के होने से,, मैं आज यहाँ हूँ, चल-फ़िर लेता हूँ, दुनिया को लाँघने की हिम्मत रखता हूँ, छोटे-बड़े ख़्वाब देख सकता हूँ, सब आपकी वजह से. आप ना होते तो मैं ना होता, और ये दुनिया भी मेरे लिए नहीं होत

Poemocean Poetry Contest

Good in poetry writing!!! Enter to win. Entry is absolutely free.
You can view contest entries at Hindi Poetry Contest: March 2017