Latest poems in Hindi & English on Republic day, India Gantantra Diwas, 26 January

कहमुकरी (वाहन)

0
17 -Oct-2019 Naman Funny Poems 0 Comments  167 Views
कहमुकरी (वाहन)

कहमुकरी (वाहन) आता सीटी सा ये बजाता, फिर नभ के गोते लगवाता, मिटा दूरियाँ देता चैन, क्या सखी साजन? न सखी प्लैन। सीटी बजा बढ़े ये आगे, पहले धीरे ये फिर भागे, इससे जीवन के सब खेल, क्या सखीसाजन? न सखीरेल। इसको ले बन ठन कर जाऊ

कट गया चालान......(हास्य कविता)

1
19 -Sep-2019 Piyush Raj Funny Poems 0 Comments  767 Views
कट गया चालान......(हास्य कविता)

(एक गरीब किसान का जवान लड़का 2nd हैंड बाइक खरीदता है और उसी दिन उसका चालान कट जाता है,पूरा पढ़िए ये हास्य कविता ) धान गेहूं बेच के खरीदा मोटर साइकिल मन मेरा खुश था पूरा उछल रहा था मेरा दिल 20 रु का पेट्रोल डालकर घूमने निकल

कवि और बीबी

0
04 -Sep-2019 Bijendra Aehsas Funny Poems 0 Comments  340 Views
कवि और बीबी

%%कवि और बीबी%% *************************** मेरे पडोस कि भाभी आयी, बोली देवर जी, मेरे बेटे का एक पांव का जुता टुट गया हैं एक जुता चाह रहा था। मैंने दूसरी तरफ इसारे कर मुस्कुरा के बोला.. जा कर उसमे से एक पांव के क्या? आप दो पांव के ले जाओ। ह

हसना अच्छी बात है

0
31 -Jul-2019 chetan sharma Funny Poems 0 Comments  176 Views
हसना अच्छी बात है

हसना अच्छी बात होती है साहब वक़्त निकाल कर हंस लिए करो जीवन की इस आप धापी में, हम सब हसना भूल गये, अरे हँसते- हँसते ही तो भगत सिंह फांशी पर झूल गये | हँसते-हँसते ही तो लक्ष्मी ने अंग्रजो को दूध छटी का याद दिलाया था | और ह

Wife

0
06 -Jun-2019 Shiv kumar Maurya Funny Poems 0 Comments  224 Views
Wife

** पत्नी ** आज की पत्नी बड़ी प्यारी है हुस्न की तारीफ पर हमारी है पति के बैलेंस पर कहर जारी है इनके नखरों से पति बना जुआरी है कानून के आगे ससुराल इनसे हारी है तभी तो इनकी मनमानी जारी है खर्चों से इनके पति भिखारी है घर क

Poemocean Poetry Contest

Good in poetry writing!!! Enter to win. Entry is absolutely free.
You can view contest entries at Hindi Poetry Contest: March 2017