Latest poems in Hindi & English on Republic day, India Gantantra Diwas, 26 January

ईश्वर The Suprem power

0
16 -Jan-2021 Parmanand kumar God Poems 0 Comments  163 Views
ईश्वर The Suprem power

शीर्षक--- . ----------------------------- .....ईश्वर.... GOD ---------------------------- 1. मैं प्रलय हूँ, महाप्रलय हूँ! काल व महाकाल भी हूँ! अंत भी मुझसे ही है... जीवन भी मुझसे ही है..... संत और भगवंत भी हूँ! आशीर्वाद निर्झरिणी मुझसे ही है..... मैं प्रकृति का नियामक .... न

राम और जगत

0
28 -Dec-2020 सफ़र God Poems 0 Comments  130 Views
राम और जगत

हे भरत वंश रघुकुल नंदन, श्री राम आपका अभिनंदन हे अरुण दिवाकर आदि अंत, वसुधा से अंबर तक अनंत हर मां की ममता में बसते, नदियों की लहरों में बहते कण-कण में व्याप्त नियम तुम ही, जीवों में व्याप्त स्वयं तुम ही निर्मल निश्

मोहन कृष्ण मुरारी

0
21 -Aug-2020 Mamta Rani God Poems 0 Comments  283 Views
मोहन कृष्ण मुरारी

हे मोहन कृष्ण मुरारी तेरी महिमा अति प्यारी छवि तेरी है ऐसी अलौकिक जग को लगती न्यारी जग में ऐसा लोक नहीं है जिसमें ना हो तेरा वास शाम सवेरे तुझको पूजे लेके दिल में कृष्ण का आस करते हो तुम सबकी रक्षा रहता है भक्तों क

किनारा मिल ही जायेगा।

0
17 -Aug-2020 Dr. Swati Gupta God Poems 0 Comments  116 Views
किनारा मिल ही जायेगा।

सत्यमेव जयते.... सत्य और असत्य में एक दिन छिड़ा भयंकर द्वन्द था, असत्य था बड़ा अभिमानी, बोला बड़े अभिमान से, जो मुझको अपनाता है, वो सारी खुशियाँ पाता है, क्योंकि मेरा साथ बेईमानी, छल कपट के साथ-साथ, ईर्ष्या और द्वेष भी नि

कृष्ण भजन

0
10 -Aug-2020 Dr. Swati Gupta God Poems 0 Comments  169 Views
कृष्ण भजन

कृष्ण भजन- कान्हा तेरी सूरत बड़ी प्यारी प्यारी, श्याम वर्ण पर मै जाऊँ बलिहारी। 1-बाललीला तेरी मन को लुभाये, नटखट अदाओं पर हुई मतवारी, कान्हा तेरी सूरत बड़ी प्यारी प्यारी।। 2-मथुरा में तुमने जन्म लिया था, गोकुल में चह

Poemocean Poetry Contest

Good in poetry writing!!! Enter to win. Entry is absolutely free.
You can view contest entries at Hindi Poetry Contest: March 2017