Latest poems in Hindi & English on Republic day, India Gantantra Diwas, 26 January

गली में क्रिकेट

0
05 -Mar-2019 Ravi Ranjan Goswami Kids Poem 0 Comments  624 Views
गली में क्रिकेट

पप्पू गोलू खेल रहे थे , गली में क्रिकेट । गोलू बॉलिंग कर रहा था , पप्पू के हाथ था बल्ला । गोलू ने जब फेंकी बॉल , पप्पू ने घुमाया बल्ला । बॉल एक बच्चे को लग गयी , मच गया हो हल्ला । सबने फिर उनको समझाया , गली में किसी को लग स

आओ देखो...

0
24 -Jan-2019 nil Kids Poem 0 Comments  750 Views
आओ देखो...

आओ देखो ... पेटू खूब खबैया /परसे जब परसैय्या ना- ना नहीं करैय्या /फूला पेट मलैय्या मांगे ताज़ी चैय्या /ओढ़े तुरत रजैय्या गहरी नींद सुबैय्या /आओ देखो भैय्या बदले नहीं रबैया/आई एक चिरैया खींची तुरत रजैया/फोडी तुरत मलैय

बच्चो की परिभाषा

1
24 -Nov-2018 सुमित.शीतल Kids Poem 0 Comments  1,365 Views
बच्चो की परिभाषा

नमस्कार, नमस्ते मित्रो, छोटे-छोटे प्यारे-प्यारे नन्हे मुन्ने राज दुलारे, जो हैं अपने माता-पिता की आंखों के तारे। ये वो नन्हे फूल है जो लगते भगवान को प्यारे, इनके बिना परिवार लगते आधे-अधूरे सारे। इन मासूमो के लिए क

Bhaloo Aaya Bhaloo Aaya

0
27 -Oct-2018 अशोक कुमार ढोरिया Kids Poem 0 Comments  1,199 Views
Bhaloo Aaya Bhaloo Aaya

भालू आया भालू आया ठुमक ठुमक कर भालू आया। पैर घुंघरू बांध कर आया खेल तमाशा करने आया। भालू आया भालू आया संग मदारी उसके आया। सब का मन बहलाने आया सब बच्चों ने शोर मचाया। भालू आया भालू आया नाच नाच के खेल सजाया। सब बच्चो

सरकस का था काला भालू

1
20 -Sep-2018 अशोक कुमार ढोरिया Kids Poem 2 Comments  1,358 Views
सरकस का था काला भालू

सरकस का था काला भालू नाम था उसका झबरू कालू सबको प्यारा नाच दिखाता खाता था वह मीठे आलू। जैसा मिलता वह खाता था बंद पिंजरे में पाता था दिखा खेल तमाशा गजब का नींद चैन की वह सोता था। जोकर बोना उसका याड़ी उसके सह करता खिल

Poemocean Poetry Contest

Good in poetry writing!!! Enter to win. Entry is absolutely free.
You can view contest entries at Hindi Poetry Contest: March 2017