Latest poems in Hindi & English on Republic day, India Gantantra Diwas, 26 January

ਕੋਈ ਵੱਡੀ ਗੱਲ ਨੀ...

0
20 -Feb-2021 ਦੀਪੂ ਗੁਰੂਗੜ੍ਹ Life Poem 0 Comments  76 Views
ਕੋਈ ਵੱਡੀ ਗੱਲ ਨੀ...

ਵਾਦਿਆਂ ਤੋਂ ਮੁੱਕਰਨਾ ਵੱਡੀ ਗੱਲ ਨੀ ਦਿਲ ਲਾਕੇ ਦਿਲ ਤੋੜਨਾ ਕੋਈ ਵੱਡੀ ਗੱਲ ਨੀ ਬਣਿਆ ਵਪਾਰ ਅੱਜ ਕੱਲ ਦਾ ਪਿਆਰ ਛੱਲੇ ਮੁੰਦੀਆਂ ਨੂੰ ਮੋੜਨਾ ਕੋਈ ਵੱਡੀ ਗੱਲ ਨੀ ਸਭ ਕਰਦੇ ਪਖੰਡ ਥਾਓਂ ਥਾਈਂ ਨਿੱਤ ਨਿੱਤ ਝੂਠੇ ਹੰਜੂਆਂ ਨੂੰ ਰੋੜ੍ਹਨਾ ਕੋਈ ਵੱਡੀ ਗੱਲ ਨੀ ਇਹ ਮਤਲਬੀ

खुश हो लेना अच्छा है

0
05 -Feb-2021 bharat Life Poem 0 Comments  163 Views
खुश हो लेना अच्छा है

हम चाहें मिले वो जरूरी नहीं... मिलकर भी साथ दे ये जरूरी नहीं... है अपना मुकद्दर पर उनका हिसाब, रोपा रिश्ता भी महके जरूरी नहीं... भारतेन्द्र शर्मा “भारत” धौलपुर, राजस्थान मो.94914307564

Beuti of life.

0
01 -Feb-2021 Sonali Yadav Life Poem 0 Comments  145 Views
Beuti of life.

Zindagi bahut khubsurat hai,har Kisi ki ye zarurat hai. Char din ki hai ye,par isko jine ki zaroorat hai. Har subah naye rang mein nazar aati hai, Suraj let sang sang ye chalti hai, Aur sham me saath dhal jati. Hansh ke dekho to phul ki tarah khil jati hai, Gamon mein ye Kanto ki tarah bich jati hai. Ye chaye to hamko bana sakti hai, Ye chaye to hamko mita sakti hai. Hum is par mehrbaan hai.to ye hum par mehrbaan hai.

जीवन इतना कठिन नहीं है (भारत)

1
29 -Jan-2021 mrityunjay sharma Life Poem 0 Comments  139 Views
जीवन इतना कठिन नहीं है (भारत)

जीवन इतना कठिन नहीं है जीवन इतना कठिन नहीं था जितना हमने बना लिया है... जब लक्ष्य नहीं कोई निश्चित राहों को क्यों बुना गया है... पता नहीं है क्या है पढ़ना, जो है पढ़ना क्यों है पढ़ना, भाई चचेरा है लंदन में जो पढ़ता था वही है

जीवन एक भूलभुलैया

1
23 -Jan-2021 bharat Life Poem 1 Comments  90 Views
जीवन एक भूलभुलैया

जीवन एक भूलभुलैया मैं अचानक एक दिन, जिंदगी की राह में मंजिल को पाने चल पड़ा उम्र के पड़ाव कितने ही गुजरते गए अनगिनत मीलों के पत्थर पार मैं करता गया....   फिर अचानक एक दिन, अनवरत राह की थकान से चूर हो ऐसा हुआ ज़ोर से ठोकर ल

Poemocean Poetry Contest

Good in poetry writing!!! Enter to win. Entry is absolutely free.
You can view contest entries at Hindi Poetry Contest: March 2017