Latest poems in Hindi & English on Republic day, India Gantantra Diwas, 26 January

मैं एक ऐसा शख़्स हूं

0
11 -Jan-2020 Sunil Life Poem 0 Comments  87 Views
मैं एक ऐसा शख़्स हूं

मैं एक ऐसा शख़्स हूं। जिसकी मुश्किलें ख़त्म नहीं होती, और चाहतों की जगह नहीं है। मैं एक ऐसा शख़्स हूं। जो दोस्ती के काबिल है, पर चाहने वाले नहीं। अपनी जरूरतों को जेब में लिए, एक अनजानी राह पर खड़ा हूं। मैं एक ऐसा शख

"है फूलों का हार जिंंदगी"

0
03 -Dec-2019 Rohit kumar Ambasta Life Poem 0 Comments  348 Views

जीने को तैयार जिंदगी मिटे भले सौ बार जिंदगी हक भाई का जो खाता है उसकी है बेकार जिंदगी दो रोटी की खातिर हमने देखी बिकती यार जिंदगी मात-पिता की सेवा कर लो फिर तो है गुलज़ार जिंदगी तुम 'रोहित' सब को समझाना है फूलों का हा

चल लिख रही हूं आज तेरी कहानी ज़िन्दगी

0
28 -Nov-2019 Suman Kumari Life Poem 0 Comments  160 Views
चल लिख रही हूं आज तेरी कहानी ज़िन्दगी

चल लिख रही हूं, आज तेरी कहानी ज़िन्दगी कितना अजीब- वो - गरीब तू मस्तानी जिंदगी तूने ही तो हंसी - वो - मुस्कान से मिलाया है मुझे शुक्रिया तेरी और बहुत ही मेहरबानी जिंदगी जो गुजर गया उसका कोई गिला नहीं मुझको अब तेरी कर

नीड़

0
18 -Nov-2019 Jyoti Ashukrishna Life Poem 0 Comments  210 Views
नीड़

वो जोड़ता तिनके फुर्र से उड़कर जाता इधर उधर ताकता ले आता वो तिनके बुनता उनका ताना-बाना कुछ लेता दाना और फिर जोड़ता तिनके न धूप की फिक्र न बारिश का डर लगन से जोड़ता वो तिनके देखती उसको तो होती कशमकश क्यों जोड़ता वो

आज जिंदगी बेहतर कहां है.....!!!

0
06 -Nov-2019 pravin tiwari Life Poem 0 Comments  301 Views
आज जिंदगी बेहतर कहां है.....!!!

बीते पलों को याद करके, थोड़ा मुस्कुरा लेते हैं.. यारों....! आज जिंदगी बेहतर कहां है, बस किसी तरह जी लेते हैं.. यारों....! किसी को किसी के लिए फुर्सत कहां, सब अपने लिए ही जीते हैं.. यारों....! बस मोबाइल के जरिए ही अब तो, सब की हाल-

Poemocean Poetry Contest

Good in poetry writing!!! Enter to win. Entry is absolutely free.
You can view contest entries at Hindi Poetry Contest: March 2017