Latest poems in Hindi & English on Republic day, India Gantantra Diwas, 26 January

तेरे जाने के बाद.......

0
18 -Aug-2019 Piyush Raj Love Poem 0 Comments  86 Views
तेरे जाने के बाद.......

किसी और का ख्याल आया नही तेरे जाने के बाद किसी ने फिर मुझे हंसाया नही तेरे जाने के बाद खुद में ही रहता था मैं मसरूफ हर पल किसी ने फिर मुझे सताया नही तेरे जाने के बाद टूट कर बिखर गया था मोतियों सा फर्श पर किसी ने फिर म

ये तेरे होठ गुलाबी

1
17 -Aug-2019 HARIOM AGRAWAL Love Poem 0 Comments  137 Views
ये तेरे होठ गुलाबी

तेरा यौवन लगे गुलिस्तां, लगने लगे हैं गुलाब ये तेरे होठ गुलाबी, ये तेरे होठ गुलाबी बगिया में दीवाने हुए हैं, भंवरे सभी तमाम ये तेरे होठ गुलाबी, ये तेरे होठ गुलाबी... तुझसे हसीं हैं तेरी अदायें, दिल तो इन्ही ने चुराया

ग़ज़ल "महकी हवाओं ने हमे पागल किया'

0
15 -Aug-2019 Rohit kumar Ambasta Love Poem 0 Comments  81 Views
ग़ज़ल

आपकी मादक अदाओं ने हमें पागल किया जुल्फ की उड़ती घटाओं ने हमे पागल किया। चाँद को यूँ दूर से कब तक भला हम देखते रात की महकी हवाओं ने हमें पागल किया। लाव-लश्कर थे कई लेकिन बताऊँ क्या तुम्हें शर्म से झुकती निगाहोंं ने

DGari

0
14 -Aug-2019 KD Love Poem 0 Comments  66 Views
DGari

Tu hi mera., Or meri chaah bhi tu . Manzil tu meri Meri raah bhi tu.. Ishtar bhi hai tujhse, Par Mera imtehaan bhi tu ... Kaash ilm ho jaye mujhe meri raqam-e-baazi Ka...Fir Gunaah tu mera, Or Gawaah bhi tu....

Pehle pyar ki pehli khushbu.

1
10 -Aug-2019 HARIOM AGRAWAL Love Poem 0 Comments  221 Views
Pehle pyar ki pehli khushbu.

Baho me bahe ho, mile hoth hotho se, Ankho me ankhe ho, dhale sham baton me, Kyu lagta he saawan sa ab, Berang mosam patjad bhi, Kya yahi he khushbu pehle-pehle pyar ki...? Tham jate he kadam, tera jab khayal aaye, Ruk jati he dhadkan, jab bhi teri yaad aaye, Khamosh he juban, kyuki tum pas aaye, Bolne lagi dhadkan, door jab bhi tu jaye, Samaj na aaye alam dill ka, samja na dill ka haal bhi, Kya yahi he khushbu pehle-pehle pyar ki...? Satana tuje tasdan, fir tuje manana bhi, Teri muskurahat ko, karte ye bahana bhi, Tere hotho ki lali, ankhe ye

Poemocean Poetry Contest

Good in poetry writing!!! Enter to win. Entry is absolutely free.
You can view contest entries at Hindi Poetry Contest: March 2017