Latest poems in Hindi & English on Republic day, India Gantantra Diwas, 26 January

सौंदर्य प्रियतमा की

0
29 -Mar-2022 Er. M. Kumar Love Poem 0 Comments  105 Views
सौंदर्य प्रियतमा की

सुब्ह लिखूं, शाम लिखूं जी चाहता हैं बेआराम लिखूं तेरे सर से पांव तक तुझे पूरी क़ायनात लिखूं मद्धम- मद्धम पग वाली हिरणी सी तेरी चाल लिखूं तेरे गोरे गोरे पांव में छनकती पायल की झंकार लिखूं पतली सी कमर पर तेरे करघनी क

बड़े अच्छे हो आप

0
28 -Mar-2022 Ajay Bargujar Love Poem 0 Comments  56 Views
बड़े अच्छे हो आप

बड़े अच्छे हो आप, दिल हमारा रख लेते हो। बेपन्हा मोहब्बत के बदले, तरस खाकर हमसे बात कर लेते हो।। कभी उदास चेहरा हमारा , आपसे देखा नही जाता । मैं आपके ख्यालों में हू, कई बार आता - जाता ।। परवाह नहीं कुछ भी हमारी, बस थोड़

जो कोई आम से खास हुए जा रहा है

0
27 -Mar-2022 Megha Raghuwanshi Love Poem 0 Comments  88 Views
जो कोई आम से खास हुए जा रहा है

जो कोई आम से खास हुए जा रहा है दिल को कोई और अच्छा लगे जा रहा है शायद सच कहते हैं लोग बेहतर लोग मिलते हैं तुम्हे भी और मुझे भी जो दिल में किसी और के लिए जज़्बात आए जा रहे हैं जो दिल को एक मौका और देने का मन हुए जा रहा है

संग-दिल महबूब।

0
19 -Mar-2022 Harpreet Ambalvee Love Poem 0 Comments  258 Views
संग-दिल महबूब।

हम ताक में थे उनकी हां के, पर वो किसी और के हो गए, जफाएं करते रहे हम उनसे, जागकर, न जाने वो किस की आगोश मे सो गए, शरीक-ए-ग़म समझा था जिसे मैंने, वो दिल पर नश्तर चुभो गए, बड़ा जुनून था कभी उनको, हमसे मिलने का, ख़ुद छोड़ के भी

जो खुद से भरा हो, हमसफर ऐसा मिल जाएं

0
18 -Mar-2022 Megha Raghuwanshi Love Poem 0 Comments  186 Views
जो खुद से भरा हो, हमसफर ऐसा मिल जाएं

जो खुद से भरा हो, हमसफर ऐसा मिल जाएं तो क्या बात है जिसे सच में खुशियां हमारी चाहिए फर्क ना पड़ें, हम साथ हों ना हो ऐसा शख्स मिल जाएं तो क्या बात है और असल में प्यार तो यही है। मेघा रघुवंशी

Poemocean Poetry Contest

Good in poetry writing!!! Enter to win. Entry is absolutely free.
You can view contest entries at Hindi Poetry Contest: March 2017