Latest poems in Hindi & English on Republic day, India Gantantra Diwas, 26 January

खोये पल

0
06 -Feb-2022 S. D. Tiwari Memories Poems 0 Comments  49 Views
खोये पल

कहाँ से लाऊँ ढूंढ कर के, वो खोये पल। लगता कोई सपना, देखा हो बीते कल। 'अपनी ऑंखें बंद कर लो' ये बोलना, 'हाँ, अब खोलो' कहके, मुट्ठी खोलना। गर्मियों की बर्फ सी, वो गए अब पिघल। कहाँ से लाऊँ ढूंढ कर के, वो खोये पल। बाँहों में ब

यादों की किताब

0
01 -Aug-2021 nil Memories Poems 0 Comments  246 Views
यादों की किताब

यादों की किताबों का भारी भरकम बस्ते टेड़ी खीर सबको समेटना चलते-चलते साथ जो बोले ओ मेरे कवि मना मत करना जो बन गईं इतिहास !

Kash

0
03 -Apr-2021 Kerri Memories Poems 0 Comments  1,432 Views
Kash

Meri khamosh aankhe use meri tanhai ka ehsaas kara jati.... Kash use gale se lagane ki meri adhuri khawaish puri ho pati.... meri dhadkane unki banho me is dooniya se bekhof ho jati Kash unki god me meri udasi aapne aap ko bhool jati Samet leti wo mujhe apni aagosh me mujh par hote sitam dekh kar Kash unki muskurat meri rooh par malhum ban jati Meri khamosh aankhe use meri tanhai ka ehsaas kara jati.... Kash use gale se lagane ki meri adhuri khawaish puri ho pati.... Zindgi bhar na sahi kuch kadam wo mere sath chal pati Kash wo ek pal ke liy bh

मन की डोर

0
30 -Mar-2021 Menka Shetiya Rajani Memories Poems 0 Comments  516 Views
मन की डोर

मन की डोर ना जाने कैसे जुड़ती है मन की डोर , ना आरंभ ना अंत का शोर , खींची जानी है किसी अजनबी से अपने की और , कुछ नाजुक सी कुछ मजबूत सी ये डोर !!! तोले तराजू में अपनी खुशी और उसके अरमान , एक सिरा हाथ में आए तो पाए जहान , अपनी

तेरी याद

0
20 -Mar-2021 Maya Ramnath Mallah Memories Poems 0 Comments  352 Views
तेरी याद

हवाओं के स्पर्श से खिड़की के पर्दे का हिलना याद दिलाता हैं तुम्हारा चुप के से आना सूरज की पहली किरण का मुझ को छूना यार दिलाता हैं तुम्हारा मेरे माथे को चूमना बीन बात के आधी रात में मोहल्ले में शोर होना याद दिलाता ह

Poemocean Poetry Contest

Good in poetry writing!!! Enter to win. Entry is absolutely free.
You can view contest entries at Hindi Poetry Contest: March 2017