Latest poems in Hindi & English on Republic day, India Gantantra Diwas, 26 January

मेरी प्रार्थना

0
07 -Feb-2019 Sunil Sharma Prayer Poem 1 Comments  132 Views
मेरी प्रार्थना

मेरी प्रार्थना

प्रभु अपने चरणों में
मेरा नमन स्वीकार करो
भूलकर भी कोई गलती न हो
प्रभु ऐसा वरदान प्रदान करो ।

जाने अनजाने किसी का अहित न हो
प्रभु इतनी सद्बुद्धि का संचार करो ।
किसी भी स्तिथि में विचलित न हो
प्रभु मुझ में इतना विस्वास भरो ।

इस संसार में खुश रहे सारे
प्रभु इतनी दुआ कबूल करो ।
हर किसी के सपने सच हो
प्रभु ऐसा कुछ चमत्कार करो ।

एक दूसरे में हो भाईचारा
प्रभु हृदय में इतना प्यार भरो ।
एक दूसरे के धरम का हो आदर
प्रभु हम में ऐसे संस्कार भरो ।

माँ बहनो का यहाँ हो सम्मान
प्रभु आँखों में इतनी शर्म भरो ।
बेटा बेटी में न हो कोई भेदभाव
प्रभु सोच में ऐसा बदलाव करो ।

अपने छोटे से सेवक की
प्रभु इतनी प्रार्थना स्वीकार करो ।
प्रभु अपने चरणों में
मेरा नमन स्वीकार करो |

सुनील



 Please Login to rate it.



You may also likes


How was the poem? Please give your comment.

Post Comment

1 More responses

  • poemocean logo
    Varsha (Guest)
    Commented on 07-February-2019

    Poem Meri prathna is very thoughtful..

Poemocean Poetry Contest

Good in poetry writing!!! Enter to win. Entry is absolutely free.
You can view contest entries at Hindi Poetry Contest: March 2017