Latest poems in Hindi & English on Republic day, India Gantantra Diwas, 26 January

Chanda Mama

1
07 -Jan-2013 Amita Magotra Moon Poems 1 Comments  6,412 Views
Amita Magotra

चंदा मामा

चंदा मामा तुम दूर देश में रहते हो
हम तो तुम्हारी कहानी अक्सर सुनते हैं
क्या तुम किसी से हमारी कहानी कहते हो
मम्मी तुम्हे चंदा मामा बुलाती हैं
तुम्हारी कहानियां सुना सुना कर
वो रात को मुझ को सुलाती हैं
क्या तुमने अपने बारे में लिखी कवितायेँ , कहानियां या गाने सुने हैं
क्या तुमने कभी धरती पर आने के सपने बुने हैं
यहाँ तो हर कोई कहता है कि मैं एक दिन चाँद पर जाऊँगा
क्या तुमने कभी कहा है कि मैं एक दिन धरती पर आऊँगा
नहीं नहीं चंदा मामा तुम धरती पर मत आना
क्या तूने इन धरती वालों को आज तक नहीं जाना
यहाँ आकर तुम भी बट जाओगे हिस्सों में
फिर कैसे बच्चे सुनेंगे तुम्हे अपने किस्सों में
चन्दा मामा तुम वहीँ दूर देश में रहना, वहीँ दूर देश में रहना
क्योंकि हर एक बच्चे ने तुम्हे अपना चंदा मामा है कहना ||



 Please Login to rate it.



You may also likes


How was the poem? Please give your comment.

Post Comment

1 More responses

  • Priyanka Gaun
    Priyanka Gaun (Registered Member)
    Commented on 07-January-2013

    Bahut hi pyari kavita hai..

    Bahut hi achchha sawal puchha hai aapne chaand se..

    Aur chaand ko dharti waalon ke baare mein bhi sahi tarah agaah kiya hai.


    I like this poem very much.
    Thanks for sharing with us..

Poemocean Poetry Contest

Good in poetry writing!!! Enter to win. Entry is absolutely free.
You can view contest entries at Hindi Poetry Contest: March 2017