Latest poems on teachers day, sikshak diwas kavita

'Mother and father's the life maker

0
18 -Oct-2018 Pankaj Moral Education Poems 0 Comments  174 Views
'Mother and father's the life maker

जन्म दिया और अंगुली पकड़कर चलना तुझे सिखाया खुद रोया रो रो कर उन्होंने तुझे हंसाया खुद कांटों में फस कांटा पार कराया लेकिन तुम अभागा जो कहने लगा उन्हें पराया कह- कह कर पराया उनके सपना को ना तोड़ रे तुम महान बनने क

Jo Hukka Bidi Peeta

0
27 -Sep-2018 अशोक कुमार ढोरिया Moral Education Poems 0 Comments  184 Views
Jo Hukka Bidi Peeta

जो हुक्का बीड़ी पीता है स्वस्थ फेफड़े खोता है। जो सुलफा दारू पीता है वो बीज मौत के बोता है। जो फल सब्जी खाता है वह स्वस्थ जीवन पाता है। जो रोज कसरत करता है वह लम्बा जीवन पाता है। जो गीत खुशी के गाता है वह चिन्ता मुक्त

गज़ल "दुश्मन भी चाहने वाले हो गए"

0
19 -Aug-2018 Rohit kumar Ambasta Moral Education Poems 0 Comments  330 Views
गज़ल

कंकरों पे चल कर पैरों मे छाले हो गए जो मंजिल मिली तो दुश्मन भी चाहने वाले हो गए।। हुनर हमारा रंग लाएगा ये यकीन ना था उनको हमारी शोहरत के आगे जो दिवाले हो गए।। बरसों लड़े थे जिस मकान के लिए अपने अपनों से आज खंडहर बन गय

Hand Washing Poem

0
31 -Jul-2018 Moral Education Poems 0 Comments  197 Views
Hand Washing Poem

We wash our hands to keep them clean.. The cleanest hands you've ever seen ! Use soap and water-that's the way To chase those yolky germs away!

एक साथ

0
17 -Apr-2018 kaushiki dwivedi Moral Education Poems 0 Comments  542 Views
एक साथ

एक साथ रहकर भी जब अपने पराए हो जाते हैं , परिवार में प्यार नहीं होता तो अपने भी दूर हो जाते हैं, रास्ते की दूरियां मापी जा सकती है दिलों की दूरियां गांठ दे जाती हैं, हम सही हैं यह सही नहीं हम हमेशा अहम दे जाते हैं, पर्

Poemocean Poetry Contest

Good in poetry writing!!! Enter to win. Entry is absolutely free.
You can view contest entries at Hindi Poetry Contest: March 2017