Latest poems on teachers day, sikshak diwas kavita

हिन्दी/ Hindi

0
13 -Sep-2018 Suresh Chandra Sarwahara Mother Tongue Hindi Poem 0 Comments  324 Views
हिन्दी/ Hindi

हिन्दी _______ हिन्दी केवल नहीं हमारे भावों की अभिव्यक्ति, यह तो है जीवन की ऊर्जा प्राणों की है शक्ति। देती आई राष्ट्र - एक्य को एक यही आधार, भारत के भाषा - पुष्पों का यही पिरोती हार। एक सूत्र में जोड़ रही है यह सारा ही द

ए हिंदी तू चिंता न कर ।

1
11 -Sep-2018 anuradha thalor Mother Tongue Hindi Poem 1 Comments  923 Views
ए हिंदी तू चिंता न कर ।

ए हिंदी तू चिंता न कर । कुछ लोग बोलेंगे तुझे हिंदी दिवस पर कि तू है विलुप्त होने के कगार पर तू एक काम कर ,उन्हे मेरी राह दिखाकर कह उनसे, कि मिले मुझसे ,अपनी चिंता को पार कर । तू मेरी नजर से देख तू आज भी हिन्दुस्तानियों

हिन्द मेरी आन है

0
14 -Sep-2017 Adityaraj Mother Tongue Hindi Poem 0 Comments  1,565 Views
हिन्द मेरी आन है

हिन्द मेरी आन है, और हिंदी इसकी शान है। शोषितों की मौन व्यथा, करूणा का ये विधान है। बोलियां भी लड़ रही, हिन्द भी बिमार है। भाषाओं में द्वन्द्व है, अंग्रेजी पर अभिमान है। माता नहीं कोई अब, ममी का पुकार है । शिक्षा भी

हिन्दी है हम सबकी बोली

0
25 -Aug-2017 Suresh Chandra Sarwahara Mother Tongue Hindi Poem 0 Comments  4,721 Views
हिन्दी है हम सबकी बोली

हिन्दी ______ हिन्दी है हम सबकी बोली कितनी निश्छल कितनी भोली, लोरी सुनकर हमने इसकी मधुर गोद में आँखें खोली। इसने हम पर प्यार लुटाया जब सोया था देश जगाया। जन जन की भाषा हिन्दी ने विश्व - शांति का पाठ पढ़ाया। दें इसको हम

मुहब्बत सी सियासत

0
04 -Dec-2016 Vikash Khemka Mother Tongue Hindi Poem 0 Comments  3,363 Views
मुहब्बत सी सियासत

आज  हिंदी दिवस के अवसर पर मैंने एक कविता लिखी जो मुझे लगा की शायद बहुत अच्छी लिखी गई है,एक बार पूरी अवश्य पढ़े, आप सभी की प्रतिक्रया अवश्य चाहूंगा मैंने कोशिश की है दिल की दुनिया और हकीकत की जिंदगी को जोड़नेकी, " मुहब

Poemocean Poetry Contest

Good in poetry writing!!! Enter to win. Entry is absolutely free.
You can view contest entries at Hindi Poetry Contest: March 2017