Latest poems in Hindi & English on Republic day, India Gantantra Diwas, 26 January

पतंग

0
15 -Jan-2020 Mahesh Kumar Maddy Motivational Poems 0 Comments  64 Views
पतंग

आसान नहीं है ये ज़िन्दगी का सफ़र, यह सिखाती है जीने के अद्भुत ढंग। आसमान में उड़ने वाला महज़ एक, कागज़ का टुकड़ा तो नहीं है पतंग। छूना चाहते हो बुलंदियाँ आकाश की, तो जगाओ दिल में इक अद्भुत उमंग। दृढ़ निश्चय कर उड़ो उन्म

तुझे मुस्कराना होगा।

0
17 -Dec-2019 Anil Mishra Prahari Motivational Poems 0 Comments  391 Views
तुझे मुस्कराना होगा।

तुझे मुस्कराना होगा। सारे ख्वाब यहाँ पूरे नहीं होते पर सभी आधे-अधूरे नहीं होते, आशा के दीप जलाये रख अँधेरों को दूर भगाये रख, उजाले का इंतजार तो कर, दुर्दिन पर प्रहार तो कर। होठों पर गीत सजाना होगा तुझे मुस्कराना ह

Himmat na haaro

0
04 -Dec-2019 Nainsi Jain Motivational Poems 0 Comments  278 Views
Himmat na haaro

Chalte chalo raah par saathi, Tum himmat ko mat haaro. Mushkilon ki kaali raat ki tum, Aashaon k deep se aarti utaaro. Har ghane jangal me koi na koi, Sunahra rasta jrur hota hai. Bas isi raste ki khoj me tum, Apne har kadam ko savaro. Is duniya me kehne walon ka, Apna ek nazaria hota hai. Par tum bas apne nazariye ki fikr krke, Ye khoobsurat zindagi guzaro. Jeevan ke har panne ka, Koi na koi maksad hota hai. Bas apni mehnat roopi kalam ki chhap, Tum har panne par maaro. Har ek kaali raat k baad, Wo jagmagata savera hota hai. Bas us savere ki k

थक हार ना बैठ मुसाफिर // thak har na baith musafir

0
02 -Dec-2019 gopal krishna Motivational Poems 0 Comments  282 Views
थक हार ना बैठ मुसाफिर // thak har na baith musafir

थक हार ना बैठ मुसाफिर, अभी और है तुमको चलना, जीवन की ये नैया है, दूर तलक ले चलना। थक हार ना बैठ मुसाफिर, अभी और है तुमको चलना।

डर।

0
14 -Oct-2019 Anil Mishra Prahari Motivational Poems 0 Comments  235 Views
डर।

डर-डरके भी जीना क्या है जीना यारों! जो होना, उसको होना है कुछ पाना, कुछ तो खोना है, अनहोनी होगी मत डरना आँखों में मत आँसू भरना, माना जीवन नहीं सरल है भरा हुआ भी बहुत गरल है। जीवन का विष भी खुश होकर पीना यारों, डर-डरके भी

Poemocean Poetry Contest

Good in poetry writing!!! Enter to win. Entry is absolutely free.
You can view contest entries at Hindi Poetry Contest: March 2017