Latest poems in Hindi & English on Republic day, India Gantantra Diwas, 26 January

Dilon se dil milen khil uthen

0
03 -Dec-2013 Harjeet Nishad Motivational Poems 0 Comments  2,109 Views
Harjeet Nishad

Dil ki dhadkanon ki raftar juda juda hai,
beshak ek jaisi nahin hai.
Dhadak rahe hain dil jab tak jindagi hai,
maut hargiz nahin hai.
Dard ka bhav hamare dilon men ho
sabake liye sada hi ek jaisa,
Dard bant len pyar den sabako,
isase badh ker ibadat koi hai hi nahin hai.


Rah nahin sakata akela ,
akela rahane ke liye ye bana hi nahin hai.
Insan samaj men rahata hai,
samaj se baher ye rah sakata hi nahin hai.
Alag alag hain jism sabake aur
dil bhi alag alag dhadakate hain sinon men,
Dilon se dil milen khil uthen gulab se,
varana ye jaindagi bhi jindagi nahin hai.

Phulvariyan phulon se saji,
sabake dilon ko bha jati hain.
Rang sugandh nahin ek si beshak,
per manon per ye chha jati hain.
Sansar ke mali ki bagiya hai
ye rang birangi dharti logon,
Sath chalate jayen pyar men ,
hansate gate ye yun hi gujar jati hai.



दिलों से दिल मिलें खिल उठें

दिल की धड़कनों की रफ़्तार जुदा जुदा है ,
बेशक एक जैसी नहीं है I
धड़क रहे हैं दिल जब तक जिंदगी है ,
मौत हरगिज़ नहीं है I
दर्द का भाव हमारे दिलों में हो
सबके लिए सदा ही एक जैसा ,
दर्द बाँट लें प्यार दें सबको ,
इससे बढ़ कर इबादत कोई है ही नहीं है I


रह नहीं सकता अकेला ,
अकेला रहने के लिए ये बना ही नहीं है I
इंसान समाज में रहता है ,
समाज से बाहर ये रह सकता ही नहीं है I
अलग अलग हैं जिस्म सबके और
दिल भी अलग अलग धड़कते हैं सीनों में ,
दिलों से दिल मिलें खिल उठें गुलाब से ,
वरना ये जिंदगी भी जिंदगी नहीं है I

फुलवारियां फूलों से सजी ,
सबके दिलों को भा जाती हैं I
रंग सुगंध नहीं एक सी बेशक ,
पर मनों पर ये छा जाती हैं I
संसार के माली की बगिया है
ये रंग बिरंगी धरती लोगों ,
साथ चलते जाएँ प्यार में ,
हंसते गाते ये यूँ ही गुजर जाती है I


 Please Login to rate it.


You may also likes


How was the poem? Please give your comment.

Post Comment

Poemocean Poetry Contest

Good in poetry writing!!! Enter to win. Entry is absolutely free.
You can view contest entries at Hindi Poetry Contest: March 2017