Latest poems in Hindi & English on Republic day, India Gantantra Diwas, 26 January

Timber Rider

0
25 -Nov-2017 Darrell B. Marsh Old People Poems 0 Comments  650 Views
Timber Rider

Timber Rider (A cowboy tragedy) D.B. Marsh Timber rider he is, on a path to his end Can’t beat it this time, now death is his friend They told him he’s done and should take a hospital bed But this ole timber rider has a place in his head A place in the high country where grizzly bear roam A place in the mountains he often called home In his mind he can smell it, that crisp mountain air His thoughts are of hunts, his memories fair It’s an honest week’s ride to the mountains he knows He’s got to leave now, to beat the high country snows

ये बुढ़ापा

1
24 -Apr-2017 Neha Sonali Agrawal Old People Poems 1 Comments  3,946 Views
ये बुढ़ापा

उम्र की हर ऋतु का, बन जाए जो समागम, ऐसी सोंधी खुश्बू सा, होता बुढ़ापे का मौसम. जीवन की राहों में, बेनाम हुए जो अरमान, बुढ़ापे के अंशुल ने, दी उन्हे हसीन उड़ान. चाहतों के लेकर पंख नये, आया है बुढ़ापे का पढ़ाव. बचपन ने सुन

Vo jo chehre per silvete tamam rekhte hai

0
09 -Apr-2017 Jyoti Old People Poems 0 Comments  2,087 Views
Vo jo chehre per silvete tamam rekhte hai

वो जो चेहरे पर सिलवटें तमाम रखते है अनुभवों से ज़िन्दगी को सरेआम रखते है न जरूरत है उन्हें आइनों की अब दुसरों की आँखों में अपने अक्स की पहचान रखते है जमाना कहता जिसे उम्र हम कहते उसे ख्वाब खूबसूरत नेमत है उन पर खुद

Vat-vriksh Ki Chhaya

1
12 -Jan-2017 Parth Old People Poems 0 Comments  3,849 Views
Vat-vriksh Ki Chhaya

पौधे को अब नहीं चाहिए वट-वृक्ष की छाया, बड़े प्यार से पाला फिर भी बेटा हुआ पराया । भूल गई मां खुद सोना पर उसे चैन की नींद सुलाया, दूर देश में बस गया वो पर मां को नहीं बुलाया । बापू ने उँगली थामी थी चलना उसे सिखाया, लाठी

Lo ! Dhal Gai Saanjh!!

0
10 -Jan-2017 Sharma Old People Poems 0 Comments  1,521 Views
Lo ! Dhal Gai Saanjh!!

शब्द निशब्द खुशिया बाँझ लो! ढल गयी जीवन साँझ ! अटकी रह गयी सांसों की डोर पीछे छूटी सुहानी भोर ! याद आने लगे बिछुड़े मीत थकी देह जैसे बालू की भीत! शब्द निशब्द खुशियाँ बाँझ लो !ढल गयी जीवन साँझ! ---------------

Poemocean Poetry Contest

Good in poetry writing!!! Enter to win. Entry is absolutely free.
You can view contest entries at Hindi Poetry Contest: March 2017