Latest poems in Hindi & English on Republic day, India Gantantra Diwas, 26 January

Haqikat

0
01 -May-2021 Kerri Sad Poems 0 Comments  563 Views
Haqikat

meri rooh me kitna kuch chal rha hai kon janta h mera dil kis kis se lad rha hai kitni kosise ki mene sab nakam ho gai dekho na aaj jhut sach par bhari pad rha hai ha mene galtiya ki me yh manta hu ab to maaf kar do na me maafi bhi mangta hu par ab badal bhi kya jayega us se mene kya kya kho diya yh bas me hi janta hu wo cahti thi me humesa khus rahu par usne hi bola me us se door rahu mere sath hone ka dikhwa karte ho aap khud samjhdar ho is se jyada me or kya kahu sota hi nhi me aaj kal rato ko bhulta nhi me dil par lagi bato ko sab ko lgta h

Tuta Dil

0
30 -Apr-2021 Prakash Chaudhary Sad Poems 0 Comments  116 Views
Tuta Dil

This poem is given by dhruv madhwan(jnv Saharsa).. नजरअंदाज करते हो... तेरी कसम नजर आना छोर देंगे, नजरंदाज करते हो , तेरी कसम नजर आना छोर देंगे घर के आइने में तेरी एक तस्वीर है तस्वीर क्या वो आईना भी तोड़ देंगे अगर रह गया तेरे मोहब्बत एक भी कतरा मे

बस अब कोरोना

0
12 -Apr-2021 PURNIMA KUMARI Sad Poems 0 Comments  136 Views
बस अब कोरोना

एक अरसों- से आरजू थी। फुर्सत के दिन की, शायद मुकम्मल भी हुई मेरी फरियाद, वजह थी सिर्फ और सिर्फ कोरोना। कभी-कभी लगता है मुझको, मैं पिंजरे में कैद हूं, शायद आज मुझे एहसास हुआ, क्या होती है आजादी। ना होगी कभी तमन्ना फुर

मुहब्बत

0
11 -Apr-2021 Deniro Salam Sad Poems 0 Comments  74 Views
मुहब्बत

गुजरता रहा इश्क़ मुसलसल , हमें तो यादों ने बेघर कर दिया । ठहरा रहा वो किनारों में कहीं, बहते फ़िज़ाओं ने उनसे दूर कर दिया । हम सोचने लगे कि अब वो शख़्स कहां है , हमें तो शहर के मयख़ाने ने दूर कर दिया । गुजरता रहा इश्क़

Jane ka dard/ जाने का दर्द

0
08 -Apr-2021 shalu L. Sad Poems 0 Comments  272 Views
Jane ka dard/ जाने का दर्द

किसीके जाने का दर्द खामोशी बस अपने आप है शब्दों का साथ बस याद से है कुछ बातों का जवाब अनसुना सा है लगता है जैसे कोई बुरा सपना सा है। उम्मीदो से दामन भरा ही था अभी की ,नजर अपनी ही शायद लग गयी, छूट गया साथ जो उम्र भर का थ

Poemocean Poetry Contest

Good in poetry writing!!! Enter to win. Entry is absolutely free.
You can view contest entries at Hindi Poetry Contest: March 2017