Latest poems in Hindi & English on Republic day, India Gantantra Diwas, 26 January

मैंने दिल से कहा..

0
16 -Oct-2019 Robin Sad Poems 0 Comments  346 Views
मैंने दिल से कहा..

मैंने दिल से कहा मत कर याद उसे .. जो तेरा कद्र नहीं करता पर दिल तो दिल है हर पल उसे याद कर लेता है... मैंने दिल से कहा तूने उसके प्यार मे गिरकर एक bloodyfool को नूर ए आफताब बना दिया.. वो चाँद की परछाई के लायक नहीं थी तूने चाँद का

वे चुपी से तस्वीर से बाहर तुम निकल

0
02 -Oct-2019 Bijendra Aehsas Sad Poems 0 Comments  1,060 Views
वे चुपी से तस्वीर से बाहर तुम निकल

%%वे चुपी से तस्वीर से बाहर तुम निकल%% ◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆ मैं पागल बन बैठा लोग कहते है ये हैं प्यार का असर। आंसुओं से धुले मन यादों का है ये तेरा कैसा कहर। बरसों से है मैं आस लिए, तुम अपनी होठ हिलाओगी... वे चुपी से

कर दे इतना ही एहसान तु

0
28 -Sep-2019 Bijendra Aehsas Sad Poems 0 Comments  391 Views
कर दे इतना ही एहसान तु

%%#कर दे इतना ही एहसान तु#%% ◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆ बरसों बरसों खफा, तु बरसों बरसों जुदा। अब कर ले वदा, तु अब करना वफा। सावन के रैन रे.. सावन के रैन रे.. बरसों बरसों खफा, तु बरसों बरसों जुदा। अब कर ले वादा, तु अब करना वफा। च

दहलीज़

0
दहलीज़

दहलीज...!! जाने क्यूँ..!! ज़हन में आज भी जब कभी पुरानी बातें आती हैं तो दिल को दर्द दे जाती हैं और मेरा यह बेकल मन दर्द से तड़प उठता है..!! ओहहहह..बड़ा अजीब था तेरा मेरी जिंदगी में आना या यूँ कहो आकर भी न आना तुम क्या मिले कभी खु

अब तुम खुश हो ना!!

0
21 -Sep-2019 Satyam Devu Sad Poems 0 Comments  560 Views
अब तुम खुश हो ना!!

छिप - छिप कर स्टेटस देखते हो, खुदको तस्वीरों मे निहारते हो, मंद-मंद मुस्काते हो, फिर ग़ुस्सा प्रतीत मुझपर कर जाते हो, अंदर-ही-अंदर खिल-खिलाते हो। सुनो तो! अब तूम ख़ुश हो ना!! ब्लॉक ख़ुद ही करते हो, स्टेटस दिखाने को दूस

Poemocean Poetry Contest

Good in poetry writing!!! Enter to win. Entry is absolutely free.
You can view contest entries at Hindi Poetry Contest: March 2017