Latest poems in Hindi & English on Republic day, India Gantantra Diwas, 26 January

नवयुग के नवल वर्ष शत-शत नमन

0
31 -Dec-2021 rtripathi Time Poems 0 Comments  15 Views
नवयुग के नवल वर्ष शत-शत नमन

चंदन सी खुशबू हो तुम में मन रूप निहाल करो नवयुग के नवल वर्ष जीवन में सुख समृद्धि लाओ ज्ञान की धारा प्यार का झरना युग युग तुम नित्य नवीन करो ओ नवयुग के नवल वर्ष जीवन को रसपूर्ण करो .

हर वक्त दिल बहलता नहीं.....

0
27 -Dec-2021 Pinky Malviya Time Poems 0 Comments  59 Views
हर वक्त दिल बहलता नहीं.....

हर वक्त दिल बहलता नहीं, कभी कभी दिल बहलाना भी पड़ता हैं। हर वक्त अपना होता नहीं, कभी कभी अपना वक्त लाना भी पड़ता हैं। हर वक्त वक्त पर निर्भर होता नहीं, कभी कभी अपनी राह खुद बनानी भी पड़ती हैं। हर वक्त दिन बदलते रहते

ये वक्त की धूमल परछाई

0
09 -Dec-2021 Swami Ganganiya Time Poems 0 Comments  65 Views
ये वक्त की धूमल परछाई

ये वक्त की धूमल परछाई हल्की सी नजर आती है कभी हाथ मे आती है कभी छूट जाती है खुश रहती है वो मेरे साथ फिर भी न जाने मुझसे क्यो रूठ जाती है वो नही है यहा कही ना जाने कहा से फिर लौट आती है ** ** ** ** Swami ganganiya

Tha value of time.

0
25 -Mar-2021 Natwar Charpota Time Poems 0 Comments  268 Views
Tha value of time.

Title - Value of time. Time is very strong, You understand, little fool. You change your style, Hold the crown of duties. Achala turns around, Time gave him no rest. You will also be inhabited, Hit time on the day. The work is completed on time, You never rest Manage relationships over time, Here we will be dry with sorrow. Time is like bad money, Humans save it. You recognize the time, You understand, little fool. Don't waste time, Will waste time Time is very strong, You understand, little fool. @charpota_navin

ਚੇਹਰੇ

0
04 -Feb-2021 ਦੀਪੂ ਗੁਰੂਗੜ੍ਹ Time Poems 0 Comments  287 Views
ਚੇਹਰੇ

ਬੜੇ ਚੇਹਰੇ ਦੇਖੇ ਜ਼ਿੰਦਗੀ ਚ ਕੁਝ ਠੱਗ ਮਿਲੇ ਕੁਝ ਚੋਰ ਮਿਲੇ ਜੇਹੜੇ ਦਿਲ ਕਰਦੇ ਘੱਟ ਮਿਲੇ ਬਾਕੀ ਸਾਰੇ ਮਤਲਬਖੋਰ ਮਿਲੇ ਦੁਨੀਆ ਦੇ ਸਾੜੇ ਨਹੀਂ ਮੁੱਕਣੇ ਕਿਤੇ ਪਾਪ ਕਿਸੇ ਦੇ ਨਹੀਂ ਲੁਕਣੇ ਸਭ ਆਪਣੇ ਬੰਦੇ ਸੀ ਨਾ ਕੋਈ ਬੇਗਾਨੇ ਹੋਰ ਮਿਲੇ ਬੜੇ ਚੇਹਰੇ ਦੇਖੇ ਜ਼ਿੰਦਗ

Poemocean Poetry Contest

Good in poetry writing!!! Enter to win. Entry is absolutely free.
You can view contest entries at Hindi Poetry Contest: March 2017