Latest poems in Hindi & English on Republic day, India Gantantra Diwas, 26 January

शोक शायरी

0
14 -Jun-2020 DassY Tribute Poems 0 Comments  150 Views
शोक शायरी

क्या लिखूं क्या बोलूं और कैसे बयां करूं अपना दर्द क्यूंकि मौन हो गया हूं निशब्द मैं तेरे मौत की खबर सुनकर यकीन नहीं होता कि अब खामोश हो गई वो मुस्कुराहट तेरे चेहरे पे रहती थी हर वक़्त जो इस जम्मिं को चूमकर पर्दे प

ताकि मुस्कुराता रहे अपना हिंदुस्तान.....

2
14 -May-2020 DassY Tribute Poems 0 Comments  430 Views
ताकि मुस्कुराता रहे अपना हिंदुस्तान.....

ख़ुद को जोख़िम में डाल ज़ख्म तेरा भर रहा है वो बर्बाद न हो देश अपना आबाद रहे भारत की शान लड़ रहा है वो अपनो को भूल ताकि मुस्कुराता रहे अपना हिंदुस्तान परवाह किए बिना ख़ुद का बचा रहा है वो सबकी जान फर्क नहीं पड़ रहा

जसवंत सिंह रावत

0
02 -May-2020 Saroj Tribute Poems 0 Comments  319 Views
जसवंत सिंह रावत

जसवंत सिंह रावत ये कहानी है एक ऐसे वीर की, जिसने सुनी हमेशा अपने दिल की, बच्चपन से ही उसने अपना एक ही लक्ष्य माना, हर हालातो से लड़ के मुझे अपने सपने को है पाना, कर लिया उस नामुमकिन मुकाम को भी हासिल, जब बना लिया उसने द

Jalkar ruki sasen/ जलकर रुकी सासें

0
01 -Dec-2019 shalu L. Tribute Poems 0 Comments  501 Views
Jalkar ruki sasen/ जलकर रुकी सासें

जलकर रुकी सासें आँचल में छुपा लेती है माँ ,जब कोई गलत नजर बच्चे को देख लेती है बेटी को नाजो से पालकर दुनियां से रूबरू करे तो कहती है, राहें अब तेरी है ऊंचाइयों तक तुझे पहुँचना है हजारो की मुस्कानों में जीना ,तुझे भी

DESH LOGO SE BANTA HAI

0
17 -Mar-2019 Risha Deep Tribute Poems 0 Comments  850 Views
DESH LOGO SE BANTA HAI

हमारे देश में लोगों की कदर उनके जाने के बाद ही होती है, चाहे तो दुनिया छोड़ के जाये उसके बाद, या देश छोड़ कर जाये उसके बाद, इसमें हमारा कोई कसूर नहीं है, क्युकी हमारा देश ही ऐसा है, पर देश लोगों से ही बनता है ... यहाँ लोगों

Poemocean Poetry Contest

Good in poetry writing!!! Enter to win. Entry is absolutely free.
You can view contest entries at Hindi Poetry Contest: March 2017