Latest poems in Hindi & English on Republic day, India Gantantra Diwas, 26 January

Anand Kumar (manish)

List of popular and best poems written by Anand Kumar (manish)

Anand Kumar (manish)
Anand Kumar (manish)
Anand Kumar (manish)

आशिकों को संभलना (एक ग़ज़ल)

1
02 -Feb-2020 Anand kumar (Manish) Social Poems 2 Comments  443 Views
आशिकों को संभलना (एक ग़ज़ल)

आशिकों को संभलना सिखाते हैं लोग
बेसहारों को चलना सिखाते

नारी तुम आजाद हो

0
22 -Dec-2019 Anand kumar (Manish) Woman Poems 0 Comments  343 Views
नारी तुम आजाद हो

नारी तुम आजाद हो
इस भारत देश में
पूरा भारत तुम्हारे साथ ख

तुझसे दूर जाकर मैं तुमसे जुदा तो नहीं (एक ग़ज़ल)

0
15 -Dec-2019 Anand kumar (Manish) Hate Poems 0 Comments  345 Views
तुझसे दूर जाकर मैं तुमसे जुदा तो नहीं (एक ग़ज़ल)

तुझसे दूर जाकर मैं तुमसे जुदा तो नहीं
गौर से देखो कहीं मै

बगिया में

1
22 -Jun-2019 Anand kumar (Manish) Flower Poem 0 Comments  373 Views
बगिया में

बगिया में उस दिन
जब तुझको देखा

बगिया में उस दिन
जब तुझको

ज्ञान की गंगा

0
15 -Jun-2019 Anand kumar (Manish) Education Poem 0 Comments  551 Views
ज्ञान की गंगा

हाथ पकड़ के जो हमें
लिखना सिखाते हैं
शिक्षा का जो हमें

मन किया करते गए

0
09 -Jun-2019 Anand kumar (Manish) Travel Poems 0 Comments  369 Views
मन किया करते गए

मैं ठहरा मनमौजी राही
मंजिल तय किए बिना निकल पड़े
अपने पर

मतदाता जागरूकता के लिए मुक्तक

0
03 -Apr-2019 Anand kumar (Manish) Politics Poem 0 Comments  481 Views
मतदाता जागरूकता के लिए मुक्तक

१) लोकतंत्र का महापर्व आया
हमने अपना कर्तव्य निभाया

वोटिंग करने जाएंगे (ठीक है)

1
01 -Apr-2019 Anand kumar (Manish) Politics Poem 0 Comments  479 Views
वोटिंग करने जाएंगे (ठीक है)

लोकतंत्र का महापर्व आया
इसको हम मनाएंगे_ठीक है

लोकतंत्

100-100 के नोट

1
28 -Mar-2019 Anand kumar (Manish) Politics Poem 0 Comments  547 Views
100-100 के नोट

हमारे गांव में नेता आया
चौराहे पे उसने सब को बुलाया
100-100 के

मैं लौट आऊंगा

0
17 -Dec-2018 Anand kumar (Manish) Memories Poems 0 Comments  436 Views
मैं लौट आऊंगा

मैं लौट आऊंगा
'मां' तुम क्यों रोती हो


गम के सागर में
तुम

Poemocean Poetry Contest

Good in poetry writing!!! Enter to win. Entry is absolutely free.
You can view contest entries at Hindi Poetry Contest: March 2017