Latest poems in Hindi & English on Republic day, India Gantantra Diwas, 26 January

Anil Mishra Prahari

List of popular and best poems written by Anil Mishra Prahari

Anil Mishra Prahari
Anil Mishra Prahari
Anil Mishra Prahari

अर्थव्यवस्था मंद।

0
19 -Apr-2020 Anil Mishra Prahari Business Poem 0 Comments  259 Views
अर्थव्यवस्था मंद।

अर्थव्यवस्था मंद, सुप्त रफ्तार।

रोग-कोरोना जनित विश्व

कोरोना का कहर।

0
24 -Mar-2020 Anil Mishra Prahari Natural Disasters Poems 0 Comments  441 Views
कोरोना का कहर।

रोग कोरोना से हुई मानवता बेचैन
जीवन लगता रुष्ट है, बैर

बच-बचके चल मेरे यार।

0
21 -Feb-2020 Anil Mishra Prahari Social Poems 0 Comments  596 Views
बच-बचके चल मेरे यार।

बच- बचके चल मेरे यार।

यहाँ जिसे अपना जताओगे
ठोकर भी

वतन की वन्दना करो।

0
22 -Jan-2020 Anil Mishra Prahari Patriotic Poems 0 Comments  568 Views
वतन की वन्दना करो।

वतन की वन्दना करो।

सबल, समृद्ध भारती
प्रदीप्त ज्योत,

तुझे मुस्कराना होगा।

0
17 -Dec-2019 Anil Mishra Prahari Motivational Poems 0 Comments  920 Views
तुझे मुस्कराना होगा।

तुझे मुस्कराना होगा।

सारे ख्वाब यहाँ पूरे नहीं होते

पेड़ों की व्यथा।

0
07 -Nov-2019 Anil Mishra Prahari Save Trees Poems 1 Comments  740 Views
पेड़ों की व्यथा।

बेदर्दी मत काट बदन मेरा दुखता है।

मार कुल्हाड़ी काट रहा

डर।

0
14 -Oct-2019 Anil Mishra Prahari Motivational Poems 0 Comments  473 Views
डर।

डर-डरके भी जीना क्या है जीना यारों!

जो होना, उसको होना है

बेटी बचाओ।

0
07 -Oct-2019 Anil Mishra Prahari Daughter Poems 1 Comments  739 Views
बेटी बचाओ।

जन्म मुझे चाहे जितना दे
मगर कभी बेटी में ना दे।

मिली

नदी की पीड़ा।

0
03 -Oct-2019 Anil Mishra Prahari River Poems 0 Comments  886 Views
नदी की पीड़ा।

नदी की पीड़ा।

दूषित होकर बहता नदियों का सारा जल।

धरती

दहेज / Dahej

0
02 -Oct-2019 Anil Mishra Prahari Social Issues Poems 1 Comments  593 Views
दहेज / Dahej

दहेज लूटता रहा।
दहेज बेलगाम है
प्रथा स्वच्छंद आम

Poemocean Poetry Contest

Good in poetry writing!!! Enter to win. Entry is absolutely free.
You can view contest entries at Hindi Poetry Contest: March 2017