Latest poems in Hindi & English on Republic day, India Gantantra Diwas, 26 January

Piyush Raj

List of popular and best poems written by Piyush Raj

Piyush Raj
Piyush Raj
Piyush Raj

आज के जानवर...

1
01 -Dec-2019 Piyush Raj Social Issues Poems 0 Comments  112 Views
आज के जानवर...

#Justice_For_PriyankaRaddy

पंख कुतर दिए उनके परिंदों के सामने
वो गिड़गिड़

क्यों बेवफा से वफ़ा की आस करते हो ......

0
28 -Oct-2019 Piyush Raj Love Poem 0 Comments  305 Views
क्यों बेवफा से वफ़ा की आस करते हो ......

क्यों बेवफा से तुम वफ़ा की आस करते हो ।
वो नही किस्मत में फि

कट गया चालान......(हास्य कविता)

1
19 -Sep-2019 Piyush Raj Funny Poems 0 Comments  889 Views
कट गया चालान......(हास्य कविता)

(एक गरीब किसान का जवान लड़का 2nd हैंड बाइक खरीदता है और उसी दि

वो बेवफ़ा......

0
17 -Sep-2019 Piyush Raj Bewafai Poems 0 Comments  188 Views
वो बेवफ़ा......

ग़ज़ल

हुस्न-ए-दीदार को अब हम तरसने लगे है
अब वो मुझपर बेवजह

तेरे जाने के बाद.......

2
18 -Aug-2019 Piyush Raj Love Poem 3 Comments  622 Views
तेरे जाने के बाद.......

किसी और का ख्याल आया नही तेरे जाने के बाद
किसी ने फिर मुझे

कइसन बदल गईल बा अब ई जमाना रे..........

0
06 -May-2019 Piyush Raj Culture Poems 1 Comments  353 Views
कइसन बदल गईल बा अब ई जमाना रे..........

"बदल गईल बा अब ई जमाना रे...."

भोरे-भोरे सुग्गा के आवाज़ नइखे

होली से पहले पापा क्यो घर आए है......?

1
02 -Mar-2019 Piyush Raj Holi Poems 2 Comments  520 Views
होली से पहले पापा क्यो घर आए है......?

"एक सात साल का बच्चा अपनी माँ से पूछता है जब उसके पापा होली

प्यार......

0
08 -Feb-2019 Piyush Raj Love Poem 0 Comments  356 Views
प्यार......

पापा की परी माँ की दुलारी
अपने घर मे थी मैं सबकी प्यारी

बदल रहा जमाना है......

0
12 -Jan-2019 Piyush Raj Social Poems 1 Comments  908 Views
बदल रहा जमाना है......

बदल रहा जमाना है.......

रिश्तेदार ऑनलाईन हो गए
जिंदगी में सब

हाँ, हम झारखंडी है ...

1
15 -Oct-2018 Piyush Raj City Poems 0 Comments  627 Views
हाँ, हम झारखंडी है ...

_"वैसे तो हम सब हिंदुस्तानी है ,पर ये कविता इसलिए लिखा हूँ क

Poemocean Poetry Contest

Good in poetry writing!!! Enter to win. Entry is absolutely free.
You can view contest entries at Hindi Poetry Contest: March 2017